जज़्बा

Valentina Tereshkova : मां के साथ कपड़े की फैक्ट्री में करती थी मजदूरी, जाने वेलेंटीना कैसे बनी स्पेस में जाने वाली पहली महिला

Valentina Tereshkova : 16 जून 1963 दुनिया भर में इस तारीख में महिलाओं के लिए सम्मान को बहुत ही ज्यादा बढ़ा दिया और महिलाओं के हौसले पर सवाल जो लोग उठाते हैं उनको मुंह तोड़ जवाब दिया गया। इस दिन सोवियत संघ के एक गरीब परिवार में पैदा हुई आम सी दिखने वाली लड़की ने अकेले स्पेस में जाने का हौसला दिखाया था। जी हां बिल्कुल हम बात करें रहे है वेलेंटीना टेरेसकोवा (Valentina Tereshkova) के बारे में।

वेलेंटीना अंतरिक्ष में यात्रा करने वाली पहली महिला सोवियत अंतरिक्ष यात्री रह चुकी हैं। 16 जून 1963 को वेलेंटीना को स्पेसक्राफ्ट वोस्तोक 6 पर 1 सोलो मिशन पर लांच किया गया था। यह अंतरिक्ष में भेजे गए पहले हार्मोन यूरी गागरिन की स्पेस यात्रा के 2 साल बाद हुआ था। वेलेंटीना ने पृथ्वी की परिक्रमा करते हुए 70 घंटे से अधिक समय बिताया।

1937, 6 मार्च वेलेंटीना का जन्म हुआ था। इनका जन्म रूस के बोल्शॉय मास्लेनिकोवो गांव में हुआ था। उनकी मां एक कपड़े की फैक्ट्री में काम करती थी जबकि पिता ट्रैक्टर चलाते थे। द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान एक जंग के नायक के रूप में इन्हें पहचाना गया था फिनिश मोर्चे पर अपनी मृत्यु के समय वेलेंटीना केवल 2 साल की थी।

Valentina Tereshkova

Valentina Tereshkova : मां के साथ कपड़े की फैक्ट्री में काम करने लगी

पिता की मौत के बाद वेलेंटीना का स्कूल छूट गया था और वह अपनी मां के साथ कपड़े की फैक्ट्री में काम करने लगी थी। छोटी सी उम्र में ही उन्हें पैराशूट में काफी दिलचस्पी रही थी। 22 साल की उम्र में उन्होंने पहली छलांग लगाई और एक लोकल फ्लाइंग क्लब में स्काईडाइविंग शुरू की। एक अंतरिक्ष यात्री के रूप में अपने चयन के समय वह एक स्थानीय कारखाने में कपड़ा कर्मचारी के रूप में मजदूरी कर रही थी।

सोवियत वायु सेना ने चयन के बाद 18 महीने की ट्रेनिंग दी। केवल 14 साल की उम्र में उन्हें सम्मान के साथ सोवियत वायुसेना में शामिल किया गया था। वैलेंटीना (Valentina Tereshkova) अभी भी सबसे कम उम्र की महिला और अंतरिक्ष में उड़ान भरने वाली पहली नागरिक का खिताब रखते हैं।

3 दिनों के लिए जब वेलेंटीना पृथ्वी ग्रह से बाहर थी, पत्रकारों ने उसके बारे में अधिक से अधिक लिखा। वह सोवियत संघ में सबसे प्रसिद्ध लड़की के रूप में धरती पर लौटी एयरपोर्ट पर उनका भव्य स्वागत किया गया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button