जज़्बा

इस लड़की के पास नहीं थी दो वक्त की रोटी, इसके बावजूद भी मेहनत कर बन गई पुलिस अफसर

कहते हैं जो लोग जिंदगी में कुछ हासिल करना चाहते हैं उन्हें किसी भी चीज की जरूरत नहीं होती है। वह अपनी मेहनत के दम पर सब कुछ हासिल कर लेते हैं, क्योंकि वह केवल अपने लक्ष्य पर टिके रहते हैं। इसीलिए उनके जीवन में पैसा आराम संसाधन यह सब मायने नहीं रखते हैं। आज हम आपको एक ऐसी गरीब परिवार की बेटी के बारे में बताने जा रहे हैं जिसका संघर्ष सुनने के बाद आप भी हैरान रह जाएंगे। जी हां इस गरीब परिवार की लड़की को अगर सुबह की रोटी मिल जाती तो शाम का अता पता नहीं होता था कि खाना मिलेगा भी या नहीं।

इन सभी हालातों का सामना करते हुए गरीब परिवार की बेटी ने पुलिस अफसर बनने का फैसला लिया और वह कामयाब भी हुई। जिस लड़की के बारे में हम बात कर रहे हैं उस लड़की का नाम तेजल खैर है। यह महाराष्ट्र के नासिक जिले की रहने वाली है। इस गरीब परिवार की बेटी तेजल ने महाराष्ट्र सरकार द्वारा आयोजित लोक सेवा आयोग की परीक्षा पास की है। इसके बाद उन्हें पुलिस सब इंस्पेक्टर का पद हासिल हुआ है।

लड़की

खुद से ही पढ़ाई कर पुलिस अफसर बनने का लक्ष्य पूरा किया

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि तेजल के पास कोचिंग सेंटर में जाने तक के लिए पैसे नहीं थे। ऐसे में तेजल का कहना है कि उसने नासिक जिले में रहकर परीक्षा की तैयारी की थी। तेजल ने कहा बहुत सारी परीक्षाएं ऐसी होती हैं जो बिना कोचिंग सेंटर के सफल नहीं की जा सकती हैं, लेकिन तेजल कोचिंग सेंटर नहीं जा सकती थी उनके पास काफी सारा आर्थिक तंगी थी। इसीलिए उन्होंने खुद से ही पढ़ाई कर पुलिस अफसर बनने का लक्ष्य पूरा किया।

तेजल ने बताया कि उनकी मां का सपना था कि उनकी बेटी पुलिस अफसर बने। तेजल के पिता ने कहा कि तेजल की मां अक्सर कहती थी आप हमारी बेटी को बड़ा होकर पुलिस अफसर बनते देखेंगे और बेटे ने अपनी मां का सपना पूरा किया, मुश्किल हालात में भी बिना कोचिंग के सफलतापूर्वक परीक्षा को पास किया। 15 महीने बाद ट्रेनिंग को पूरी की और वर्दी को पहने हुए अपने पिता के सामने आई। इसके बाद तेजल के माता-पिता का सीना गर्व से फूल गया।

Also Read : एक पुलिसकर्मी जो देश की सेवा के साथ-साथ देश के भविष्य की भी सेवा करता है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button