जज़्बा

Neet Exam : चाय वाले के बेटे ने क्रैक किया नीट का एग्जाम अब बनने जा रहा है डॉक्टर बिना कोचिंग के किया कमाल

Neet Exam : आप ने यह कहावत जरूर सुनी होगी कि राजा का बेटा राजा बनता है और मजदूर का बेटा मजदूर बनता है, परंतु अब ऐसा दौर चला गया है। मजदूर का बेटा मजदूर बनने के लिए मजबूर नहीं है। जी हां इसकी एक जीती जागती मिसाल पेश की है सूरज कुमार बेहरा ने। जिसने चाय बेचकर नीट की परीक्षा में सफलता प्राप्त की है।

ओडिशा के कंधमाल जिले में स्थित फूलबनी गांव से ताल्लुक रखने वाले सूरज कुमार ने हाल ही में राष्ट्रीय पात्रता एवं प्रवेश परीक्षा नीट (Neet Exam) को क्लियर किया है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि सूरज के पिता पेशे से चाय बेचने का काम करते हैं। सिबा शंकर अस्पताल के बाहर चाय बेचते हैं और उनका बेटा सूरज भी उनकी मदद करने के लिए दुकान पर काम करता है।

ऐसे में सूरज के पिता चाहते थे कि उनका बेटा डॉक्टर बने लेकिन उनकी आर्थिक स्थिति बिल्कुल भी ठीक नहीं थी और वह नीट की परीक्षा (Neet Exam) के लिए कोचिंग सेंटर की फीस भी नहीं जुटा पा रहे थे। ऐसे में सूरज ने अपने पिता के मन की दुविधा को समझ लिया और बिना कोचिंग क्लास लिए घर पर ही परीक्षा की तैयारी की।

Neet Exam

Neet Exam : 8056 वां रैंक हासिल किया

सूरज कुमार ने मेडिकल प्रवेश परीक्षा में 720 में से 635 अंक प्राप्त किए हैं जबकि उन्होंने सामान्य वर्ग में 8056 वां रैंक हासिल किया है। वैसे तो सूरज कुमार का परिवार अन्य पिछड़ा वर्ग से भी संबंध रखता है परंतु उनके पास आरक्षण का प्रमाण पत्र नहीं है। इसकी वजह से वह थी और रैंक में अतिरिक्त छूट का लाभ नहीं उठा पाए है।

सूरज कुमार अपने पिता की दुकान पर मदद करने के लिए अक्सर आया करते थे और वहां डॉक्टर चाय पीने आते थे और सूरज उनसे बातचीत करके अपने विचार शेयर करते थे। इस तरह सूरज को मेडिकल में एडमिशन लेने का आईडिया भी मिल गया। इसके बाद यूट्यूब के जरिए एग्जाम की तैयारी शुरू कर दी। सूरज ने पहले प्रयास में सफलता हासिल नहीं की बल्कि इसके लिए उन्होंने पांच बार प्रयास किया। इसके बावजूद उन्होंने सफलता प्राप्त नहीं हुई और छठे प्रयास में उन्होंने एग्जाम क्लियर कर लिया और उन्हें कामयाबी मिल गई।

Also Read : UPSC Exam : अनुराग जिन्हें दुनिया आईएएस के नाम से जानती है कभी फेल हुए थे 12वीं और ग्रेजुएशन में

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button