जज़्बा

IPS Mohita : पिता के पास नहीं रे पढ़ाने के लिए पैसे इसके बावजूद भी मोहिता बनी आईपीएस ऑफिसर जानिए संघर्ष की कहानी

IPS Mohita : यूपीएससी परीक्षा जो देश की सबसे कठिन परीक्षा में से एक मानी जाती है। उसमें सफलता प्राप्त करने के लिए बहुत सारे चरण से गुजरना पड़ता है और बहुत सारी मेहनत की भी जरूरत होती है। आज हम आपको एक ऐसी कहानी के बारे में बताने जा रहे हैं। जी हां एक ऐसी कहानी जो एक आईपीएस ऑफिसर बनी। जिसका नाम मोहिता शर्मा है। यह कहानी 2017 की है। मोहित शर्मा मूल रूप से हिमाचल की कांगड़ा की रहने वाली है लेकिन उनका परिवार दिल्ली आ गया था। वह एक बेहद ही साधारण परिवार से ताल्लुक रखती है। उनके पिताजी एक मारुति कंपनी में काम करते थे और माँ एक ग्रहणी है।

मोहिता के घर की आर्थिक स्थिति बिल्कुल भी ठीक नहीं थी। इसके बावजूद भी पिता ने उनकी पढ़ाई में किसी भी प्रकार की कोई कसर नहीं छोड़ी। मोहिता पढ़ने में काफी होशियार थी। उनकी शुरुआती पढ़ाई दिल्ली पब्लिक स्कूल में हुई उस समय वह द्वारका में रहते थे। इसके बाद उन्होंने विद्यापीठ कॉलेज से इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार में इंजीनियरिंग की डिग्री भी प्राप्त की। ग्रेजुएशन पूरी होते ही मोहिता सिविल सेवा सर्विसेज की तैयारी करने में लग गई।

IPS Mohita

IPS Mohita : सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी इंटरनेट के माध्यम से की

यूपीएससी तैयारी की और चार बार असफल रही। इसके बावजूद भी उन्होंने हार नहीं मानी और तैयारी करती रही। उन्होंने अपनी गलतियों को सुधारा उन्होंने सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी इंटरनेट के माध्यम से की। आखिरकार मोहिता की मेहनत रंग लाई और सिविल सेवा परीक्षा के पांचवें प्रयास में 262 वी रैंक के द्वारा उनका चयन आईपीएस के लिए हो गया।

मोहिता ने अक्टूबर 2019 में आईएएस अधिकारी रुशल गर्ग के साथ शादी की थी। आपकी जानकारी के लिए बता दे कि कौन बनेगा करोड़पति के 12वे सीजन में मोहिता 10000000 रुपए भी जीत चुकी है।

Also Read : बस कंडक्टर की बेटी पहले प्रयास में बनी IPS ऑफिसर, मां का अपमान देख शालिनी ने लिया ये फैसला

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button