जज़्बा

IAS Anurag Kumar : आज दुनिया जिसे IAS अनुराग के नाम से जानती हैं पहले पढ़ाई से भागे, फिर 12वी और ग्रेजुएशन में हुए थे फेल

IAS Anurag Kumar : भारत की सबसे कठिन परीक्षा में से यूपीएससी की परीक्षा बहुत मुश्किल परीक्षा होती है कई साल की मेहनत के बाद में सफलता मिल जाए इस बात की कोई गारंटी नहीं है। ऐसा माना जाता है कि बचपन से ही जिस बालक की बुद्धि तेज होती पर हो वही इस परीक्षा को पास कर सकता है कई मायने में देखा जाए तो यह कथन सत्य भी है स्कूल या कॉलेज में असफल होने के बाद कोई छात्र आईएएस अफसर बन सकता है लेकिन आज आपको एक ऐसे ही असर के बारे में बताएंगे जिन्होंने अपनी मेहनत के दम पर फेल होने के बाद में इस परीक्षा को पार कर आईएएस बने।

IAS Anurag Kumar

IAS Anurag Kumar : हिंदी मीडियम से पढ़ाई की शुरुआत

बिहार के जिला कटिहार के आईएएस अनुराग कुमार ने आठवीं तक पढ़ाई हिंदी में उसके बाद उन्होंने अपना एडमिशन इंग्लिश मीडियम स्कूल में करवाया। हिंदी मीडियम के छात्र के हुआ अचानक से इंग्लिश मीडियम में पढ़ाई करना बिल्कुल भी आसान नहीं होता है। इसके बाद उन्होंने दसवीं कक्षा में 90% अंक को हासिल किया। लेकिन किस्मत को कुछ और ही मंजूर था।अनुराग 12 वी की प्री बोर्ड परीक्षा में फेल हो गए। उसके बाद 12वी बोर्ड में पास हो गए।

IAS Anurag Kumar : ग्रेजुएशन में नहीं हुए पास

स्कूल की पढ़ाई पूरा करने के बाद में अनुराग ने दिल्ली विश्वविद्यालय के ग्राम कॉलेज से अपनी ग्रेजुएशन की पढ़ाई को पूरा किया ग्रेजुएशन की पढ़ाई में भी वह कई बार असफल रहे लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी अपना ग्रेजुएशन पोस्ट ग्रेजुएशन यही से ही पूरा किया।

IAS Anurag Kumar : पोस्टग्रैजुएशन के दौरान लिया UPSC परीक्षा देने का फैसला

पोस्ट ग्रेजुएशन की पढ़ाई के बाद में अनुराग ने यूपीएससी की तैयारी करने का फैसला कर लिया। स्कूल में फेल होने वाले छात्र ने पहले ही प्रयास में अपना यूपीएससी का पेपर क्लियर कर लिया। अपनी इस रैंक से अनुराग बिल्कुल खुश नहीं थे और उन्होंने वापस से इस परीक्षा को देने का निर्णय लिया। 2018 में यूपीएससी में अनुराग में ऑल इंडिया में 48 वी रैंक हासिल किया।

Also Read : IAS Roshan Jacob : घुटने भर पानी, एक हाथ से सहारा, दूसरी तरफ छाता, लखनऊ कमिश्नर IAS रोशन जैकब का वीडियो वायरल

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button