जरा हटके

प्लास्टिक की बेकार बोतल से पौधों को दी नई जान, इस जुगाड़ से तेजी से बढ़ोतरी और यह पौधों में

झारखंड के चाईबासा में पर्यावरण को लेकर एक टीचर ने नई पहल की है। राजा बास गांव के टीचर ने बेकार हो चुके हजारों पानी की बोतल को काटकर एक टपक विधि से पौधों को पानी देने का तरीका निकाला है। इससे पौधों को जरूरत है हिसाब से पानी मिल जाता है और लगातार पौधे तेजी से बढ़ोतरी कर रहे हैं।

बोतल

प्लास्टिक का बोतल जल्दी से गलता भी नहीं

दैनिक जागरण से बात करते हुए टीचर तरुण गोगोई ने बताया है कि लोग पानी पीने के बाद बोतल को फेंक देते हैं। प्लास्टिक का बोतल जल्दी से गलता भी नहीं है और जमीन को भी बेकार बनाता है। ऐसे में हमने बेकार प्लास्टिक की बोतल को इकट्ठा किया और उसके पेंदे को काटकर अलग कर दिया। इसके बाद उन्होंने उसे उल्टा करके ढक्कन को तोड़ दिया एक बोतल में सुबह पानी डालने पर दिनभर बूंद बूंद के हिसाब से पानी गिरता है। इस दौरान वह किसी पौधे के सामने एक लकड़ी को डालकर बोतल बांध देते हैं इससे पानी दिनभर पौधों को मिलता रहता है।

उन्होंने कहा पौधों में एक बार जितना पानी डालें कुछ देर में वह सब कुछ सोख लेता है। अगर पानी धीरे-धीरे डलता रहता है तो पौधों का विकास तेजी से होता है और पानी की भी बर्बादी नहीं होती है। इस प्रयोग के जरिए लगभग 2000 पौधों को फायदा मिल रहा है।

Also Read : वेस्ट पड़ी ग्लूकोस की बोतल से भारतीय किसान ने खेती में, बहुत कम समय में कमाए लाखों रुपए…

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button