जरा हटके

बिहार का 21 साल का लड़का फ्री में घूमता है दुनियाॅ । नोमेड शुभम

दुनिया घूमना किसे अच्छा नहीं लगता है,मगर खाली जेब और पीठ पर बैग रख कर दुनिया घूमना आसान नहीं है। दोस्तों आज आपको पढ़ने मिलेगा nomad shubham Biography, Girlfriend, Wiki के बारे में। जी हाँ दोस्तों आज हम बात करेंगे हमारे extream world traveler nomad Shubham के बारे में। दोस्तों Shubham वो लड़का है जिसने रोड के रास्ते दुनिया को घूमने का सपना देखा और उस सपने के पूरा करने के लिए अपनी जी जान लगा दिया तो चलिए Nomad Shubham Biography in hindi पढ़ते हैं।

Nomad Shubham Biography in hindi

Nomad Shubham कौन हैं ?

Nomad Shubham बिहार राज्य के muzzaffarpur जिले के एक छोटे से गांव के रहने वाले हैं। उनके दुनिया घूमने के जूनून ने उन्हें एक सामान्य लड़के से एक खास इंसान बना दिया। मात्र 20 वर्ष की आयु में 40 से ज़्यादा देशों को काफी काम खर्चे में कर डाला। Nomad Shubham ने दुनिया को सिखाया की दुनिया घूमने की इच्छा हो तो कोई समस्या आपको लक्ष्य प्राप्त करने के मार्ग में बाधा नहीं बन सकती।

Nomad Shubham का बचपन

Shubham Kumar का जन्म बिहार के एक छोटे से गांव में वर्ष 2 DEC 2002 को हुआ।

प्रारंभिक शिक्षा अपने गांव के ही स्कूल में शुरू हुई और बाद की पढाई करने के लिए Shubham पटना चले गए।

Nomad Shubham की कोटा लाइफ।

Nomad Shubham Biography in hindi
नोमेड शुभम

कोटा ये वही शहर है जिसने एक साधारण से लड़के को Nomad Shubham बना दिया। Shubham अपने 10 वीं की परीक्षा पास करने के बाद राजस्थान के कोटा शहर चले गए IIT JEE की तैयारी करने के लिए। Shubham पढाई में तो बचपन से ही तेज़ थे मगर कोटा शहर ने उनको नया platform दिलाया। JEE की तैयारियों के दौरान मिलने वाली छुट्टियों का शुभम ने भरपूर फायदा उठाया और नए नए शहरों को explore करना शुरू किया।

Nomad Shubham Travel journey |

कोटा में रहने के दौरान ही शुभम ने छोटी मोटी यात्रा करनी शुरू कर दिया। मात्र 16 – 17 वर्ष की छोटी उम्र में उनको ट्रैवलिंग से लगाव हो गया। कोटा में मिलने वाली छुटियों के दौरान शुभम अपनी बहन के साथ लद्दाख यात्रा किये । यही वो यात्रा थी जिसके बाद शुभम ने पूरी दुनिया घूमने का ख्वाब देखना शुरू कर दिया।

मगर समस्या थी पढाई, शुभम ने इसका भी उपाय निकला और वो Engineering Entrance exam देने के बाद भारत के कई शहरों को explore करना शुरू कर दिये। Shubham ने 12 वीं की परीक्षा होने के बाद राज्य स्तर पर होने वाली इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाओं को देना आरम्भ किया और वे प्रत्येक परीक्षा के लिए एक नए शहर का चुनाव करते थे। परीक्षा भी देना हो जाता था और शहर घूमना भी हो जाता था।

All India इंजीनियरिंग के रिजल्ट आने पर उनको NIT कॉलेज में दाखिले का मौका मिला मगर अब तो उनके दिमाग में नया ही फितूर चलने लगा था। उन्होंने अपने परिवार वालों को बताया की वे Germany जा कर के पढाई करना चाहते हैं साथ ही साथ उन्होंने world traveling का भी प्लान तैयार किया और वे निकल पड़े अपने नए सफर पर।

Nomad Shubham and International trip

Nomad Shubham ने अपनी पहली विदेश यात्रा के दौरान Nepal और भूटान को explore किया।
दूसरी विदेश यात्रा में Nomad Shubham ने रूस की यात्रा की।
तीसरी विदेश यात्रा शुभम ने Malaysia trip और इस तरीके से शुरू हुई Nomad Shubham की international Journey ।

Nomad Shubham Full Time Traveling

Shubham ने 2018 के दौरान ये निर्णय किया की वे full टाइम Traveling करना आरम्भ करेंगे और उन्होंने अपनी पढाई को छोड़ दिया।
International trips के दौरान उन्हें कई सारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। जिसमे सबसे बड़ी दिक्कत थी पैसे जो की ट्रेवलिंग के लिए अनिवार्य थे।

Shubham ने Skype platform की मदद से Online Tuitions पढ़ना, Freelancing काम करना शुरू किया साथ ही साथ उन्होंने अपने ट्रिप को भी सही तरह से प्लान करना शुरू कर दिया। मात्र 600 800 रुपये प्रतिदिन के खर्चे में शुभम ने विदेश यात्रा को करना शुरू किया।

और पढ़े: 10 ऐसी कमियां जो नहीं मरने देती आपके अंदर के रावण को

पितृपक्ष का महत्व क्या होता है ?

पत्थरो से अकेले छत बनाने वाली लड़की कैसे बनी वेटलिफ्टर | मीराबाई चानू की पूरी कहानी

निराशा में आशा का दूसरा नाम है देशराज

Nomad Shubham की Full Time Traveling और परिवार की नाराज़गी।

Full Time ट्रेवलिंग शुरू करने के बाद Nomad शुभम के माता पिता उनसे नाराज़ रहने लगे। इस नाराज़गी का सबसे बड़ा कारण था शुभम की पढाई को छोड़ देना, साथ ही साथ परिवार को यह भी डर लगता था की शुभम का भविष्य कही अंधकार में ना फस जाये। इस स्थिति को समझते हुए शुभम ने Distance Course लेकर के अपना graduation करना शुरू कर दिया। साथ ही साथ परिवार को यह भी समझाया की वे कुछ साल दुनिया को explore करने के बाद सरकारी नौकरी की तैयारी शुरू कर देंगे।

Nomad Shubham और World Record

जी हाँ दोस्तों, Nomad Shubham के नाम पर एक विश्व रिकॉर्ड भी दर्ज है, उस रिकॉर्ड का नाम है Guinness Record for traveling more than Lakh kilometers by land using public transport & Hitchhiking Shubham ने कभी भी World record बनाने की कोई इच्छा नहीं थी मगर उनके passion फॉलो करने के जुनून ने उनका नाम Guinness book of world रिकॉर्ड में दर्ज करवा दिया।

Nomad Shubham की गर्लफ्रेंड

Nomad Shubham के हाल ही के प्रकाशित इंटरव्यू के माध्यम से शुभम ने बताया की पहले उनकी गर्लफ्रेंड थी। मगर अभी वो सिंगल हैं और अपने future पे काम कर रहे हैं।

Nomad Shubham की कमाई

कुछ महीने पहले हुए video interview में शुभम ने बताया की यूट्यूब के माध्यम से शुभम ने वर्ष 2020 में लगभग 21 लाख की कमाई की, साथ ही साथ शुभम ने बताया की अब उन्हें कई सारे Brand डील्स के लिए भी एप्रोच करना शुरू कर दिया है।

Nomad Shubham की सबसे रोमांचक यात्रा।

Nomad Shubham ने सपना देखा की वे दुनिया के सबसे ठन्डे गांव की यात्रा करेंगे। शुभम ने इस ट्रिप को प्लान किया और वे पहुंच गए Republic of Sakha जहां का तापमान -71 degree रहता है। वहाँ के कड़े वातावरण में Shubham ने hitchhiking को किया और वे हिंदुस्तान के चौथे नागरिक बने जिसने उस ठंढे प्रदेश की यात्रा की हो।

Nomad Shubham और Social Media

Nomad शुभम Social media platform Instagram पे बहुत ही ज़्यादा एक्टिव रहते हैं। Youtube wo platform है जहां शुभम रेगुलर अपने ट्रेवल Vlog को लोगो के साथ साझा करते रहते हैं।

आप उन्हें YouTube और Instagram पर फॉलो कर सकते हैं।

YT – Nomad Shubham
IG – @Nomadshubham

उम्मीद करते हैं, दोस्तो ! Nomad Shubham Biography in hindi आपको यह पोस्ट पसंद आई होगी । यदि आपके पास कोई Inspirational story है जिसे आप लोगो के साथ साझा करना चाहते हैं तो आप हमें Merajazbaamail@gmail.com पर भेज सकते हैं ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button