जरा हटके

क्या आप जानते है राकेश झुनझुनवाला ने अपनी वसीयत में किन लोगों को अपनी संपत्ति का मालिक बनाया है

जैसा कि आप जानते हैं राकेश झुनझुनवाला का कुछ दिन पहले मतलब कि 14 अगस्त को निधन हो गया था। बिगबुल कहे जाने वाले झुनझुनवाला अपने पीछे अरबों की संपत्ति छोड़ गए हैं। इनके निधन के बाद चर्चा होने लगी है कि उनकी इतनी बड़ी जागीर का मालिक कौन होगा। कौन उनकी संपत्ति को संभालेगा अब ऐसे में उनकी वसीयत सामने आ रही है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि राकेश झुनझुनवाला ने अपनी वसीयत में अपनी पत्नी रेखा, उनके भाई राजीव गुप्ता, उनके भतीजे विशाल गुप्ता और अपने विश्वासपात्र वकील बर्जेस देसाई को अपनी संपत्ति का मालिक बनाया है। जो सागर एसोसिएट के पूर्व प्रबंधक निदेशक और झुनझुनवाला के करीबी दोस्त देसाई ने उन्हें वसीयत बनाने में मदद भी की थी। ईटी नाउ ने अपनी एक रिपोर्ट में इस बारे में जानकारी दी है।

राकेश झुनझुनवाला

दमानी राकेश झुनझुनवाला की संपत्ति का नेतृत्व कर सकते हैं

राकेश झुनझुनवाला के निवेश निर्णय को देखने के बाद एक समिति का गठन किया गया। इसमें उनके करीबी d-mart के संस्थापक राधाकिशन दमानी कल्प्राज धर्म की और अमल पारीक को इस समूह का सदस्य बनाया गया। इन सभी के बीच वसीयत की खबर इस चर्चा के कुछ दिनों में आई जब यह बताया गया था कि दमानी मुख्य ट्रस्टी के रूप में राकेश झुनझुनवाला की संपत्ति का नेतृत्व कर सकते हैं।

इसी के साथ अरबपति निवेशक ने अपने तीनों बच्चों निष्ठा आर्यमान और आर्यवीर के लिए अलग-अलग ट्रस्ट बनाए हैं। खबरों के अनुसार उनकी पत्नी रेखा उनके भाई राजीव उनके भतीजे विशाल देसाई और उनके लंबे समय से सहयोगी उत्पल सेठ और अमित गोयल को इन ट्रस्टों के ट्रस्टी के रूप में नामित किया गया है।

राकेश झुनझुनवाला अपने पीछे करीब 30,000 करोड़ की संपत्ति छोड़ कर गए हैं। उन्होंने भारत की सबसे नई एयरलाइनर अकासा जैसी गैर सूचीबद्ध फर्मों में भी निवेश किया था। जिसके वह सह संस्थापक थे। झुनझुनवाला की संपत्ति 5.8 अरब डॉलर के करीब है जिससे वह भारत के 48 वे सबसे अमीर व्यक्ति बन गए हैं।

Also Read : निवेश और रचनात्मकता का संगम सिद्धांत

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button