जरा हटके

Incentives For Graduate Girls : 25-25 हजार रुपए मिलने जा रहे हैं 14 हजार लड़कियों के खाते में चेक कीजिए आपको मिलेंगे कि नहीं

Incentives For Graduate Girls : केंद्र और राज्य सरकार शिक्षा पर अब बहुत ही ज्यादा ध्यान दे रही है इसीलिए वह अपने स्तर पर कई तरह की स्कॉलरशिप भी देती रहती है, ताकि ज्यादा से ज्यादा लड़कियां अच्छी तरह से पढ़ाई कर सकें। इसी दिशा में राज्य सरकार की तरफ से एक और नया कदम उठाया गया है। बिहार सरकार ने अपने राज्य में ग्रेजुएट होने वाली अविवाहित बेटियों के अकाउंट में 25 – 25 हजार रुपए की धनराशि प्रोत्साहन देने का तय किया है। यह ₹25000 की प्रोत्साहन राशि सीधे कन्याओं के अकाउंट में जमा की जाएगी। मतलब की कन्याओं के अकाउंट में पैसा ट्रांसफर होगा इसमें किसी यूनिवर्सिटी या कॉलेज का कोई भी रोल नहीं होगा।

Incentives For Graduate Girls

Incentives For Graduate Girls : शिक्षा विभाग ने राशि की स्वीकृति दे दी

₹25000 की प्रोत्साहन राशि के लिए शिक्षा विभाग ने राशि की स्वीकृति दे दी है। इसी के साथ पैसे विमुक्त भी कर दिए गए हैं। फाइनेंशियल ईयर 2022 – 2023 में मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना के अंतर्गत मुख्यमंत्री बालिका प्रोत्साहन योजना के लिए ₹350000000 प्रदान करने जा रहे हैं। इसकी स्वीकृति महालेखाकार बिहार को दे दी गई है। आवंटन आवेदन निर्गत होने के साथ ही इस पैसे की निकासी की जा सकती है। शिक्षा विभाग ने स्वीकृति आदेश में साफ साफ कहा है कि इस राशि का उपयोग किसी अन्य मद में नहीं किया जा सकता है।

बिहार राज्य सरकार राज्य की सभी बालिकाओं के उत्थान के लिए मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना चलाई जा रही है। यह स्कीम मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा शुरू की जा रही है। इस योजना के माध्यम से प्रदेश सरकार की सभी बालिकाओं को साक्षर और सशक्त बनाने के लिए प्रेरित कर रही है। इसी के साथ उन्हें आर्थिक सहायता भी प्रदान कर रही है। यह आर्थिक सहायता उन्हें उनके जन्म से लेकर ग्रेजुएशन पूरी होने तक समय समय पर दी जाएगी। जैसे कि योजना के नाम से ही आप समझ सकते हैं कि यह योजना मुख्य से प्रदेश की सभी बालिकाओं के लिए है इसका लाभ केवल लड़कियां ही उठा सकती हैं।

Also Read : UPSC EXAM : एक ही परिवार के चार बच्चे आईएएस और आईपीएस अधिकारी बने, कर रहे हैं देश की सेवा

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button