IAS Story: पेट्रोल पंप चलाने वाली महिला की बेटी बनी आईएएस अफसर, जानी जाती हैं अपने दबंग अंदाज के लिए

IAS Story

IAS Story: आज हम आपको ऐसी महिला की सक्सेस स्टोरी बताने जा रहे हैं जो राजस्थान की रहने वाली है और अपने सपनों की उड़ान भरकर वह उड़ चुकी थी. यह कहानी है राजस्थान की निवासी स्वाति मीणा की. राजस्थान के अजमेर में अपनी पढ़ाई लिखाई पूरी करके स्वाति कम उम्र से ही अधिकारी बनना चाहती थी.

IAS Story

इंटरव्यू के दौरान स्वाति ने बताया था कि उनकी मां चाहती थी वह डॉक्टर बने. इस बात में स्वाति को भी कोई परेशानी नहीं थी. लेकिन जब एक बार उनकी मां की एक कजन अधिकारी बनी, तब स्वाति आठवीं कक्षा में पढ़ाई कर रही थी. जब वह अफसर कजन स्वाति के पिता से मिली तो स्वाति के पिता काफी खुश नजर आए. पिता के चेहरे की खुशी देख कर ही स्वाति ने मन में निश्चय कर लिया था कि वह भी बड़ी होकर एक अफसर बनेगी.

 

IAS Story

इसलिए उन्होंने यूपीएससी के बारे में पिताजी से पूछा और उसकी तैयारी शुरू कर दी. इस काम में स्वाति के पिता ने भी काफी मदद की. स्वाति की मां पेट्रोल पंप चलाती थी और पिता घर पर रहकर स्वाति की तैयारी करवा रहे थे. पिता ने तैयारी करवाते समय स्वाति के कई प्रकार से इंटरव्यू भी लिए.

स्वाति की मेहनत आखिरकार 2007 में जाकर सफल हुई और उन्होंने यूपीएससी परीक्षा में ऑल इंडिया रैंक 260 प्राप्त की. उस बैच में स्वाति सबसे कम उम्र की आईएएस अधिकारी बनी थी. उन्हें मध्यप्रदेश कैडर से चुना गया था.

IAS Story

जब उनकी पोस्टिंग मध्यप्रदेश के मंडला में हुई तो वहां खनन माफिया बहुत जोरों शोरों से अपना काम कर रहा था. लेकिन स्वाति ने वहां पहुंचते ही इनके खिलाफ मुहिम शुरू कर दी. उन्होंने बताया कि जब वह अधिकारी मंडला पहुंची तो कई विभागों से खनन माफिया के बारे में शिकायतें मिली.

इसके बाद उनका ट्रांसफर खंडवा में हो गया, जहां पर मारे गए सिमी आतंकियों का शव जब उनके इलाके में आया तो कुछ उत्पाति लोगों ने माहौल बिगाड़ने की कोशिश की थी. लेकिन स्वाति ने अपने दबंग अंदाज से इस मामले को भी शांत कर दिया था.

स्वाति मीणा की सबसे ज्यादा चर्चा दशहरा के समय पुलिस लाइन में हो रही शस्त्र पूजा में एके-47 से हवाई फायरिंग करने पर हुई थी. इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद कार्रवाई की मांग भी की गई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *