आईएएस: 5 साल नहीं देखी परिवार की शक्ल, आईएएस बन पूरा किया पापा का सपना…!!!

आईएएस

आईएएस: दोस्तों वैसे तो जिंदगी भर हमें किसी न किसी तरीके से कोई परीक्षा देनी ही पड़ती है लेकिन युवा अवस्था में ही किए गए परिश्रम और त्याग के बदौलत हम अपने आगे के भविष्य को सुनहरा बना सकते हैं। युवा अवस्था में काफी लोग अपने एक भविष्य को बनाने के लिए विभिन्न प्रकार के कार्यों में लग जाते हैं कई लोग व्यापार करते हैं कई प्राइवेट नौकरी तो कई सरकारी नौकरी की लाइन में लगे रहते हैं। समाज में ऊंचा स्थान पाने के लिए आजकल हर कोई बड़े पद पर पहुंचना चाहता है।

आजकल प्रशासनिक सेवा में चयनित होकर युवा अपने परिवार का नाम बड़ा करना चाहते हैं देश की सेवा करना चाहते हैं। यूपीएससी की परीक्षा पास करना बहुत ही कठिन है क्योंकि यह देश की सबसे कठिन परीक्षा है जिसमें 3 चरणों में परीक्षा होती है। इसके अलावा इसका सिलेबस से काफी लंबा चौड़ा रहता है फिर भी लोग इसकी तैयारी के लिए काफी साल प्रयत्न करते रहते हैं।

आईएएस

आज हम आपको एक ऐसी लड़की की कहानी बताने जा रहे हैं जो करीब 5 साल तक बिना अपने परिवार के पास आए यूपीएससी की परीक्षा की तैयारी करती रही। और यह सब उसने अपने पिता का सपना पूरा करने के लिए किया। वह लगातार असफल होती रही लेकिन उसने हिम्मत नहीं आ रही और अंत में अपने पिता का सपना पूरा करते हुए हैं आईएएस बनकर घर लौटी।

आईएएस: हरियाणा की मधुमिता बनी IAS

हम 2019 में आईएएस अधिकारी बनी मधुमिता की बात कर रहे हैं जो कि हरियाणा राज्य के पानीपत में जन्मी थी। मधुमिता ने अपनी पढ़ाई दिल्ली से की थी। मधुमिता की जिंदगी में काफी उतार-चढ़ाव आए लेकिन उन सब से बिना हारे वह लगातार तैयारी करने पर ध्यान देती रही। अपने परिवार से 5 साल दूर रहने के बाद मधुमिता ने यह आईएएस की परीक्षा पास की थी। इतना ही नहीं मधुमिता को अपनी तैयारी के साथ साथ अपनी जॉब भी करनी थी। यह कोई आसान कार्य नहीं है कि जॉब करते हुए इतनी बड़ी परीक्षा की तैयारी करें और उसे पास भी कर ले।

आईएएस

आईएएस: मधुमिता की यूपीएससी की तैयारी करने वालो को सलाह

आपको बता दें कि मधुमिता ने आईएएस की परीक्षा पास करने से पहले दो प्रयास दिए थे जिसमें पहले ही प्रयास में वह इंटरव्यू तक पहुंच गई थी और दूसरे ही प्रयास में वह आईएएस अधिकारी बन गई। यूपीएससी की तैयारी करने वालों को मधुमिता ने सलाह दी है कि सबसे पहले अपने चारों तरफ का वातावरण में सकारात्मक बनाना चाहिए उसके बाद में ही तैयारी शुरू करनी चाहिए। सबसे पहले यूपीएससी का पूरा सिलेबस ध्यान से पढ़ें और उसी के अनुसार अपनी तैयारी शुरू करें आप अपने खुद के नोट्स भी बना सकते हैं।

आपको इस दौरान पूरा फोकस्ड रहना होगा और सिर्फ तैयारी पर ध्यान देना होगा। सोशल मीडिया से दूर रहना होगा। एक बार सिलेबस पूरा करने के बाद में इसको वापस से दोहराना भी है तथा उसके बाद में आपको राइटिंग की परीक्षा की तैयारी करनी है आप जितना ज्यादा लिखोगे उतना ही ज्यादा लिखोगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *