खेती: पति के गुजर जाने के बाद बेसहारा महिला ने की अंगूर की खेती, आज कर रही है लाखों रुपए की कमाई

खेती

खेती: पति पत्नी का रिश्ता जन्म जन्म का होता है और हर सुख दुख में एक दूसरे का साथ देते हैं. दोनों मुश्किल समय में एक दूसरे की मदद करते हैं. पति कमाकर लाता है तो पत्नी घर चलाती है.

लेकिन जब किसी पत्नी का पति साथ छोड़ देता है तो वह अकेली हो जाती है और उसे ही घर परिवार की पूरी जिम्मेदारी संभालनी पड़ती है. आज हम आपको ऐसी ही महिला की कहानी बताने जा रहे हैं जिसके पति के गुजर जाने के बाद उसने हार नहीं मानी और अपने घर परिवार का पालन पोषण किया.

खेती

इस महिला ने अपने पति की मृत्यु के बाद 13 एकड़ जमीन में अंगूर की खेती शुरू कर दी. आज वह अंगूर की खेती से साल भर में 25 लाख रुपए से 30 लाख रूपये तक की कमाई कर लेती है. आइए जानते हैं उस महिला के बारे में….

खेती: कौन है वह महिला

यह महिला महाराष्ट्र के नासिक जिले की रहने वाली किसान महिला संगीता पिंगले है, जिन्हे पति की मौत के बाद काफी सारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा था. लेकिन उसने मुसीबतों से हार नहीं मानी और आगे बढ़ती रही. उसने अपने सभी जेवरात बेचकर अंगूर की खेती शुरू कर दी और यह बिजनेस काफी सफल भी रहा है.

रूढ़िवादी विचारों के अनुसार महिलाएं घर का चूल्हा चौका ही करती हैं और आदमी खेतों में काम करते हैं. लेकिन कुछ महिलाओं ने इस परंपरा को तोड़ते हुए खेती में हाथ बढ़ाया और काफी अच्छा बिजनेस कर रही हैं. इन महिलाओं ने पुरुषों और महिलाओं में अंतर करने वाले लोगों का मुंह बंद किया है.

खेती

नासिक जिले की निवासी संगीता पिंगले ने भी कुछ ऐसा ही काम किया है. उन्होंने अपनी 13 एकड़ जमीन पर अंगूर के साथ टमाटर की खेती शुरू की और आज 8 से 10 तक अंगूर और टमाटर का उत्पादन कर वह 25 से 30 लाख रुपए हर साल कमाकर पुरुषों को पीछे छोड़ रही है.

खेती: निभाई परिवार की सभी जिम्मेदारी

एक दुर्घटना में संगीता के पति की मौत हो गई जिसके बाद वह पूरी तरह टूट चुकी थी. लेकिन उन्होंने हिम्मत ना हारते हुए घर परिवार और बाहर की सभी जिम्मेदारियां निभाई. संगीता के आस पास नौकरी करने का कोई भी जरिया नहीं था.

संगीता के पति भी किसान थे और वह खेत में काम करते थे. संगीता ने भी इसी तरफ कदम बढ़ाया और खेती करना शुरू कर दिया. जब वह कहती से संबंधित काम सीख रही थी तो लोगों ने उनका काफी मजाक उड़ाया और कहा कि महिलाएं ऐसा काम नहीं करती. लेकिन उन्होंने मर्दों की इस सोच को हरा दिया.

खेती

खेती: विज्ञान की स्टूडेंट रही है संगीता

संगीता को शुरुआत में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा लेकिन उन्होंने अपने सभी जेवरात बेचकर चचेरे भाई से कर्ज ले लिया. उसके बाद फिर से शुरू कर दी, इन्होंने उत्पादन से संबंधित कुछ परेशानी आ रही थी. विज्ञान की स्टूडेंट थी इसलिए जल्दी परेशानी पकड़ में आ गई और उसका इलाज कर लिया.

खेती

खेती: दूसरी महिलाओं के लिए बनी प्रेरणा

संगीता पिंगले पढ़ी-लिखी किसान है और उन्होंने जैविक खेती के साथ आधुनिक खेती को भी अपनाया. उन्होंने आधुनिक खेती से अंगूर का उत्पादन किया. संगीता ने बताया कि शुरुआत में उन्हें खेती करने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ा लेकिन आज वह एक सफल महिला किसान है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *