करियर

नीट की तैयारी करने के लिए टॉपर तनिष्का ने बताया सफलता का मंत्र

जैसा कि आप जानते हैं नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने बुधवार रात मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट यूजी 2022 का परिणाम जारी किया है। पूरे दिन इंतजार करने के बाद यह परिणाम देर रात को जारी किया गया था। परिणाम का ऐलान होने के बाद तनिष्का ने ऑल इंडिया रैंक 1 प्राप्त की है। आपकी जानकारी के लिए बता दे तनिष्का हरियाणा की रहने वाली है और 2 साल कोटा में रहकर एलेन करियर इंस्टीट्यूट से नीट की तैयारी की है। तनिष्का ने 720 में से 715 अंक प्राप्त किए हैं। यह परीक्षा 17 जुलाई को हुई थी जिसमें 1872342 विद्यार्थियों ने रजिस्ट्रेशन किया था।

नीट में शामिल होने वाले विद्यार्थियों के लिए यह अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा रहा है। यह परीक्षा भारत के 483 और 14 विदेशी शहरों के 3570 केंद्रों पर पूरी हुई थी। यह परीक्षा विदेशों में अबू धाबी, बैंकॉक, कोलंबो, दोहा, काठमांडू, मनामा, मस्कट, रियाद, शहरजहां, सिंगापुर, दुबई और कुवैत में भी हुई थी। देश में एम्स सहित 612 मेडिकल कॉलेज की 92000 एमबीबीएस सीटों पर इस परीक्षा के माध्यम से प्रवेश दिया जाना है। इसी के साथ बीडीएस और अन्य वीडियो ने सीटों में प्रवेश दिया जाएगा।

नीट

नीट की तैयारी के दौरान कंसेप्ट को समझने के लिए ज्यादा से ज्यादा प्रश्न पूछती थी

हरियाणा की रहने वाली तनिष्का के पिता कृष्ण कुमार सरकारी टीचर है, जबकि मां सरकारी स्कूल में लेक्चरर है। तनिष्का ने यह बताया है कि 2 साल से ऐलन की क्लासरूम स्टूडेंट रह चुकी हैं। मैं डॉक्टर बनना चाहती हैं क्योंकि यह एक ऐसा फील्ड है जिसमें आप दूसरों की मदद करके खुद को सेटिस्फाई कर सकते हैं। तनिष्का ने आगे यह भी बताया कि नीट की तैयारी के दौरान कंसेप्ट को गहराई से समझने के लिए वह ज्यादा से ज्यादा प्रश्न पूछती थी कभी भी हिचकीचाहती नहीं थी। कभी भी उनके कम मार्क्स आते तो उनके पेरेंट्स उन्हें मोटिवेट करते रोजाना 6 से 7 घंटे वह सेल्फ स्टडी करती।

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि तनिष्का ने इसी वर्ष 12वीं कक्षा में 98.6 प्रतिशत अंक प्राप्त किए जबकि दसवीं कक्षा में 96.4 प्रतिशत अंक हासिल किए थे। इसी के साथ जेईईमेंस में 99.50 प्रतिशत अंक प्राप्त किए थे। दिल्ली एम्स से एमबीबीएस करने की इच्छुक तनिष्का का कार्डियो न्यूरो या ऑंकोलॉजी में स्पेशलाइजेशन करना चाहती है।

Also Read : सफलता किसी की मोहताज नहीं: बस कंडक्टर की बेटी Amisha ने 10वीं में टॉप कर मुहावरे को सही साबित किया

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button