कारोबार

Ashok Gupta : एक ऐसी फसल जिसे एक बार लगाओ और तीन बार काटो इस फसल के जरिए हो रहा है लाखों का मुनाफा

Ashok Gupta : आज हम बात करने जा रहे हैं उत्तर प्रदेश के सीतापुर के रहने वाले अशोक गुप्ता के बारे में, जिन्होंने परंपरागत फसलों की खेती शुरू की है। हर साल इसमें लगातार लागत का इजाफा होने लगा और छोटा जानवरों के आतंक से भी उन्हें अच्छा खासा नुकसान झेलना पड़ता था। ऐसे में किसी ने उन्हें औषधीय फसलों की खेती करने के बारे में सलाह दी। अब अशोक औषधीय फसलों की खेती से सालाना लाखों रुपए का मुनाफा कमा रहे हैं।

अशोक गुप्ता ने आजतक से बात करते हुए यह बताया है कि वहां गन्ना गेहूं धान की खेती करते थे, लेकिन जानवर के चलते और रासायनिक कीटनाशक और उर्वरक पर निर्भर होने की वजह से उनकी फसल दिन-प्रतिदिन खराब हो रही थी। जिसकी वजह से उन्हें खेती में घाटे हो रहे थे। कई बार खेत के चारों तरफ तारों की सेटिंग भी कराई गई उसके बावजूद भी जानवर उनकी फसल को चट कर जाते थे।

Ashok Gupta

Ashok Gupta : ब्राह्मी बकोपा की खेती की शुरुआत

सीतापुर बिस्वा ब्लॉक के गांव कमुवा के रहने वाले अशोक गुप्ता आगे बताते हैं कि साल 2017 में कृषि विज्ञान केंद्र कटिहार से संपर्क होने के बाद उन्होंने सीमैप लखनऊ से प्रशिक्षण लिया फिर 1 एकड़ जमीन पर ब्राह्मी बकोपा की खेती की शुरुआत की। आज वह 1 एकड़ में सालाना 2 से ₹300000 की कमाई आसानी से कर रहे हैं। इसी के साथ जिले में अन्य लोगों ने औषधियों की खेती के बारे में भी बताया और लोगों को भी वह जागरुक कर रहे हैं।

अशोक गुप्ता कहते हैं कि ब्राम्ही बकोपा की खेती करना बहुत ही लाभदायक है। औषधीय गुणों की वजह से छोटा जानवर इसे खाते भी नहीं है और दूसरी तरफ 1 एकड़ में केवल 20 से ₹50000 की लागत आती है। इस फसल को एक बार लगाने के बाद साल में तीन बार कटाई की जा सकती है इसके अलावा इसके साथ सहफसली के तौर पर मक्का अरहर की बुवाई भी कर सकते हैं।

Also Read : Farming : इस व्यक्ति ने सरकारी नौकरी छोड़ शुरू कर दी खेती आज का राज 4000000 रुपए सालाना टर्नओवर

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button